Patanjali swadeshi-samradhi card हो सकता है Jio को कड़ी चुनौती दें

Facebook Twitter Google Plus Linkedin Instagram

Patanjali swadeshi-samradhi card हो सकता है Jio को कड़ी चुनौती दें

Patanjali swadeshi-samradhi card हो सकता है Jio को कड़ी चुनौती दें

भारत के सबसे भरोसेमंद फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स ब्रांड बनने के बाद, योग गुरु बाबा रामदेव की पतंजलि ने रविवार को दूरसंचार क्षेत्र में प्रवेश किया।बाबा रामदेव ने भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) के साथ गठबंधन में स्वदेशी समृद्धि सिम कार्ड Patanjali swadeshi-samradhi card लॉन्च किए।

प्रारंभ में पतंजलि के केवल कर्मचारी और पदाधिकारी सिम कार्ड का लाभ उठा सकेंगे। पूरी तरह लॉन्च होने के बाद, पतंजलि अपने प्लान पर लोगों को 10 फीसदी की छूट देगा।

Patanjali swadeshi-samradhi card में 144 रुपये के रिचार्ज के साथ, देश भर में Unlimited कॉल और 2 जीबी के साथ 100 एसएमएस भी दिया जायेगा।‌ इसके अलावा, लोगों को स्वास्थ्य, आकस्मिक और जीवन बीमा भी मिलेगी।

एक क्रायक्रम अवसर पर बोलते हुए रामदेव ने कहा कि सरकारी स्वामित्व वाली बीएसएनएल एक ‘स्वदेशी नेटवर्क’ है और पतंजलि और बीएसएनएल दोनों का उद्देश्य देश का कल्याण है।

रामदेव ने कहा, “बीएसएनएल के 5 लाख काउंटर हैं और वहां से लोग जल्द ही पतंजलि स्वदेशी-सम्राधी Patanjali swadeshi-samradhi card,” कार्ड प्राप्त कर सकते हैं।”

उन्होंने आगे कहा कि आकर्षक डेटा और कॉल पैकेज के अतिरिक्त, कार्ड के साथ क्रमशः 2.5 लाख रुपये और 5 लाख रुपये के चिकित्सा और जीवन बीमा कवर के साथ आता है।

सुनील गर्ग, बीएसएनएल के मुख्य महाप्रबंधक, जो यहां उपस्थित थे, उन्होंने पतंजलि और बीएसएनएल के समझौते की भी सराहना की। उन्होंने कहा “पतंजलि के सदस्यों को सिर्फ अपनी पहचान दिखाना होगा और सिम थोड़े पेपर काम के तुरंत बाद सक्रिय हो‌ जायेगा।

Leave your vote

0 points
Upvote Downvote

Total votes: 0

Upvotes: 0

Upvotes percentage: 0.000000%

Downvotes: 0

Downvotes percentage: 0.000000%

Leave a Reply

Your email address will not be published.Required fields are marked *

Hey there!

Forgot password?

Don't have an account? Register

Forgot your password?

Enter your account data and we will send you a link to reset your password.

Your password reset link appears to be invalid or expired.

Close
of

Processing files…

error: Content is protected !!